एक और फर्जी टीटी पकडा गया

6/9/19,पुणे- हाल ही में पुणे से इंदौर जानेवाली एक्सप्रेस में पुणे मंडल के टिकट निरीक्षक  सुनील मालुसरे की सतर्कता एवं सूझबूझ के चलते लोगों को टीसी बताकर पैसे एंठनेवाले एक फर्जी टीटी को पुलिस के हवाले कर दिया गया । उल्लेखनीय है कि इसके पहले भी एक फर्जी टीटी को पुणे से हावडा जानेवाली आझाद हिंद एक्सप्रेस में अहमदनगर के निकट पकडा गया था।

 

इंदौर जाने वाली गाडी में ड्युटी पर तैनात पुणे के टिकट निरीक्षकसुनील मालुसरे को एक यात्री द्वारा बताया गया कि कोच में एक संदिग्ध व्यक्ति उनके टिकट चेक कर रहा है और जबरन पैसे वसूली के लिये दबाव डाल रहा है । यह जानकारी मिलने के तुरंत बाद  मालुसरे ने इस संदिग्ध व्यक्ति को बिना किसी वक्त गवाएं अपनी सूझबूझ से धर दबोचा एवं इस बात की सूचना कंट्रोल रुम को दी, जिसके बाद फर्जी टीटी बने स्वप्नील पुंडलीक पालवे को कल्याण स्टेशन पर आरपीएफ को सौंप दिया गया।

 

इस घटना के बाद  मालुसरे ने अपनी ड्युटी वसई रोड तक करने के बाद वापस कल्याण पहुंचकर आरोपी स्वप्नील पुंडलीक पालवे को आरपीएफ की मदद से जीआरपी कल्याण के हवाले किया । जिसके बाद आरोपी के विरुध्द सीआरपीसी की धारा 154 के तहत मामला दर्ज किया गया, आगे भी पडताल जीआरपी कल्याण द्वारा की जा रही है।

 

रेल प्रशासन यात्रियों से अनुरोध करता है कि यात्रा के दौरान किसी भी संदिग्ध व्यक्ति द्वारा टिकट जांच तथा वसूली की सूचना तुरंत वहां पर उपलब्ध रेल कर्मी को देकर इस प्रकार के फर्जी टीटी को पकडने में रेलवे की मदद करें।