पुणे मंडल पर सघन टिकट जांच अभियान

Share this News:

पुणे मंडल के पुणे-मलवली, पुणे-बारामती , पुणे-मिरज तथा मिरज – कोल्हापूर सेक्शन में व्यापक टिकट जांच अभियान चलाए जा रहे है । अप्रैल 2017 से जनवरी 2018 की अवधि में टिकट जांच के दौरान कुल 2 लाख 34 हजार मामलो में 13 करोड 10 लाख 33 हजार रुपये की राशि जुर्माना के तौर पर वसूल की गयी है । आश्चर्यजनक रुपसे 1लाख 13 हजार 405 लोग बिना टिकट यात्रा करते पाए गये है जिनसे 6 करोड 32 लाख 82 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया। उक्त कार्रवाई मंडलरेल प्रबंधक श्री मिलिन्द देऊस्कर तथा अपर मंडल रेल प्रबंधक श्री प्रफुल्ल चंद्रा के मार्गदर्शन में वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्री कृष्णाथ पाटील के नेतृत्व में टिकट जांच निरीक्षकों तथा रेल सुरक्षा बल के सहयोग से की गयी।

इस टिकट जांच में यह देखा गया है कि सर्वाधिक लोग पुणे-लोनावला सेक्शन में बिना टिकट यात्रा करते हैं जबकि इस मार्ग पर लोकल ट्रेन का किराया सब से कम है । पुणे से आकुर्डी 5 रुपये में , पुणे से देहुरोड 10 रुपये में तथा पुणे से लोनावला केवल 15 रुपये में यात्रा की जा सकती
है। इसके अलावा यदि कोई व्यक्ति उक्त स्टेशनों के बीच मासिक सीजन टिकट लेकर यात्रा करे तो वह क्रमश 100 ,185 तथा 270 रुपये में अनलिमिटेड आ-जा सकता है जो कि सडक मार्ग से यात्रा करने मे एक बार की गयी यात्रा के खर्च के मुकाबले बहुत कम है। यदि किराया इतना कम है तब यात्री क्यों बिना टिकट चलता है और जुर्माना देता है? क्यों नही वह सम्मान के साथ यात्रा कर सकता है? यह विचारणीय है। अगर आनेवाले समय में इस परिस्थिति में सुधार नही दिखाई दिया तब रेल प्रशासन ऐसे लोगों पर नकेल कसने की तैयारी में हैं जिसमें बिना टिकट चलने वाले लोगों के नाम, फोटोग्राफ ,पते, फोन नंबर आदि की जानकारी जुटाकर उनका रिकार्ड रखेगा ।

रेल प्रशासन ने लोगों से उचित टिकट लेकर यात्रा करने की अपील की है ।

Follow Punekar News: